पंगवाड़ी

तुबारि 2015 के सभी संस्करण

लोगों में पंगवाली भाषा को लिखने और पढ़ने का उत्साह देने के लिये तथा अन्य जानकारी बांटने के लिये यह मासिक पत्रिका सन 2011 से शुरु किया गया है। इस में किसी खास विषय पर लेख, अच्छे अच्छे कथाएं और बच्चों के लिए जोक्स तथा उस महीने की घाटी के कुछ खास खबरे छपती है। यह पत्रिका उम्मीद करती है कि इस से लोगों में पंगवाली में लिखने के लिए हिम्मत बढ़ेगा तथा जो प्रतिभाशाली है उनको अपने कला को प्रदर्शन करने के लिए मंच प्रदान करेगा। 2015 संस्करणों को पढ़ने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर दबाएं।